जेएनयू के दलित छात्र ने दी खुदकुशी की धमकी

कोई टिप्पणी नहीं
हैदराबाद विश्वविद्यालय में दलित शोधार्थी रोहित वेमुला की खुदकुशी को लेकर राष्ट्रव्यापी आक्रोश के बीच जेएनयू के एक दलित छात्र ने कुलपति को दो पत्र लिखकर धमकी दी है कि अगर उसके शोध मानदेय को अगले साल तक नहीं बढ़ाया गया तो वह जान दे देगा।
जेएनयू ने इसकी पुष्टि की और कहा कि उसकी सीनियर रिसर्च फेलोशिप को बढ़ाना रोका गया है क्योंकि उसे वित्त अधिकारी से मंजूरी नहीं मिली है। दूसरी तरफ कुलपति एसके सोपोरी ने कहा कि मामले को जल्द हल कर लिया जाएगा। उन्होंने विश्वविद्यालय के मुख्य सुरक्षा अधिकारी से कहा है कि वे इस छात्र पर नजर रखें।



छात्र ने पत्र में आरोप लगाया कि विभाग ने उसके साथ भेदभाव किया है और विभाग उसकी पीएचडी रोकने का प्रयास कर रहा है। इस दलित शोधार्थी ने कहा है कि एक हफ्ते के भीतर उसकी फेलोशिप बहाल की जाए, नहीं तो खुदकुशी कर लेगा। एक अन्य पत्र में उसने कहा था कि वह कुछ दिनों के लिए विश्वविद्यालय से अनुपस्थित रहा क्योंकि उसके परिवार में मौत हो गई थी। अब वह फिर से अध्ययन कर रहा है इसलिए चाहता है कि फेलोशिप बनी रहे। 

अधिकारी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय संगठन प्रभाग से जुड़े इस शोधार्थी को ब्रुसेल्स जाने के लिए 66,000 रुपए का अग्रिम भुगतान हो गया था। उन्होंने कहा कि इस छात्र को फेलोशिप को जारी रखने के लिए इस राशि को लौटाना था। लेकिन उसने नहीं लौटाए। शोधार्थी ने दिसंबर, 2013 से जुलाई, 2015 के बीच जेएनयू छात्र के रूप में अपना पंजीकरण खत्म करवा लिया था।
Reference: 
1. http://www.jansatta.com/rajya/jnu-dalit-student-threatens-suicide-in-a-letter-sent-to-vice-chancellor/64349/#sthash.btRtnd9q.dpuf

2. http://indiatoday.intoday.in/story/jnu-dalit-scholar-demands-resumption-of-grants-threatens-suicide/1/580309.html

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें