दलित सरपंच को धमकी, तिरंगा फहराया तो जान से मार देंगे

कोई टिप्पणी नहीं
गुजरात के मेहसाणा जिले के नोरतल गांव में दलित सरपंच चंदू मकवाना को गणतंत्र दिवस पर झंडा फहराने से रोकने के लिए धमकी दी गयी हैं। गांव के ठाकुरो ने धमकी दी हैं के अगर उसने झंडा फहराया तो उसे जान से मार दिया जायेगा। 


कुछ दिनों पहले पतंग उड़ाने के विवाद को लेकर चंदू मकवाना और उसके परिवार पर ठाकुर समुदाय के लोगों ने हमला बोल दिया था। इसके बाद मकवाना को पुलिस की सुरक्षा दी गई थी। अब सरपंच ने मांग की है कि गणतंत्र दिवस को मिली धमकी को देखते हुए उसकी पुलिस सुरक्षा बढ़ा दी जाए। 

चंदू मकवाना ने कहा, 'मुझे बुरा परिणाम भुगतने की धमकी दी गई है। ठाकुरों ने मुझे चेताया है कि दलित होने के नाते मैं तिरंगा नहीं फहरा सकता।' मकवाना को 15 जनवरी को हुए विवाद के बाद 9 पुलिसवालों की सुरक्षा दी गई थी।


बाद में इसे घटाकर 4 कर दिया गया। पहले सशस्त्र जवान सुरक्षा में थे। बाद में केवल 4 ऐसे जवान सुरक्षा में लगाए गए जिनके पास लाठी है। खेरालू के डेप्युटी एसपी रठवा ने बताया कि 'चंदू ने गणतंत्र दिवस पर ज्यादा सुरक्षा की मांग की है। मैंने सुरक्षा बढ़ाने का निर्देश दे दिया हैं।

Reference: http://navbharattimes.indiatimes.com

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें