पंजाब के अबोहर में दलित समुदाय के दो लोगों के हाथ-पांव काटे

कोई टिप्पणी नहीं
कुछ दिन पूर्व केन्द्रीय मंत्री वी. के. सिंह द्वारा दलितो की तुलना कुत्तो से करने का विवाद अभी थमा भी नहीं था की पंजाब के अबोहर में दलित समुदाय के दो लोगों के हाथ-पैर काटे जाने के बाद से स्थिति तनावपूर्ण हैं। यह घटना जिस फार्महाउस पर घटी, वह अकाली दल के एक नेता का बताया जा रहा है।

पुलिस ने अकाली नेता शिवलाल डोडा और उनके भतीजे समेत 11 लोगों के ख़िलाफ़ एफ़आइआर दर्ज कर ली है, लेकिन अब तक किसी को गिरफ़्तार नहीं कर पाई है।

ख़बरों के मुताबिक़ बलात्कार के आरोपी युवकों को समझौता करने के लिए फार्महाउस लाया गया था, लेकिन कुछ लोगों ने उन पर हमला बोला और उनके हाथ-पांव काट दिए, जिससे एक युवक की मौक़े पर ही मौत हो गई जबकि दूसरे का अमृतसर के एक अस्पताल में इलाज चल रहा है।

इस घटना के बाद अबोहर के लोगों ने विरोध स्वरूप सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन किया और बाजार बंद करा दिया। गुस्साए लोगों ने शराब की दुकानों को आग भी लगा दी। लोगों के उग्र प्रदर्शन को देखते हुए इलाके में भारी संख्या में पुलिस तैनात की गई है।

पंजाब में दलितो के खिलाफ हिंसा का यह पहला मामला नहीं हैं। लेकिन चिंता का विषय यह हैं की पिछले कुछ महीनो से ऐसी घटनाओ में तेजी आई हैं।

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें