संघ ने अंबेडकर के पुतले जलवाए थे: सिंधिया

कोई टिप्पणी नहीं

कांग्रेस के ज्योतिरादित्य सिंधिया ने लोकसभा में आज (30/11/2015) आरोप लगाया कि हिंदू कोड को लेकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कहने पर संविधान निर्माता बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के देशभर में पुतले जलवाए गए थे जिस पर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने उनसे कहा कि इस बारे में उन्हें संदेह है और बेहतर होगा कि वह अपने तथ्यों को दुरूस्त कर लें। इस पर सिंधिया ने कहा, ‘‘यह सच्चाई है।’’ इसके जवाब में अध्यक्ष ने कहा, ‘‘मुझे संदेह है।’’
सिंधिया ने संविधान के प्रतिबद्धता के विषय पर सदन में चल रही चर्चा में हिस्सा लेते हुए कहा, ''बाबा साहिब ने हिंदू कोड पर काम किया था। वे चाहते थे कि हिंदू कोड के तहत संविधान के सिद्धांत उसमें डाले जाएं और भेदभाव मिटाया जाए। पति और पत्नी को शादी के बाद समान अधिकार मिलें। बेटे और बेटी के बीच अंतर न हो, उन्हें समान अधिकार मिलें।’’ उन्होंने कहा, ''लेकिन आश्चर्य है कि इस हिंदू कोड पर प्रतिक्रिया हुई और 70 जगह उनके (अम्बेडकर) पुतले जलाए गए। उन पर इल्जाम लगाया गया कि हिंदू कोड के नाम पर हिंदू धर्म और हिंदू परंपरा पर आक्रमण किया जा रहा है। पुतले जलाने का काम, आक्रमण और इल्जाम लगाने का काम किसी और ने नहीं बल्कि आरएसएस ने करवाया था।’’

सिंधिया ने कहा, ''आज यही सरकार उस आरएसएस को अपना मार्गदर्शक मानती है। इनके मंत्री वहां रिपोर्ट कार्ड सबमिट करते हैं। आज केवल नाम के लिए बाबा साहिब की विरासत को मनाया जा रहा है।’'

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें