मध्य प्रदेश में दलित महिला को नंगा कर मूत्र पिलाने की कोशिश

कोई टिप्पणी नहीं
मध्य प्रदेश फिर से एक बार दलित महिला के खिलाफ हिंसा के लिए खबरों में हैं। इस बार राज्य के छतरपुर जिले में एक दलित महिला को नंगा कर पेसाब पिलाने की कोसिस हुई हैं। दलित महिला को निर्वस्त्र कर पीटने का मामला 04/09/2015 को फेसबुक की टॉप ट्रेंडिंग में था। शुक्रवार को सुबह से ही ये मुद्दा फेसबुक पर टॉप 10 ट्रेंड लिस्ट में था। देशभर के फेसबुक यूजर्स ने इसे गंभीर और संवेदनशील मुद्दा करार दिया। हालांकि, पीड़िता की शिकायत पर घटना के आठ दिनों बाद मामला दर्ज कर लिया गया है। आरोपी दंपत्ति विजय यादव और उसकी पत्नी को गिरफ्तार भी कर लिया गया है।

कुछ माह पहले ही 45 साल उम्र की पीड़िता को सरकार की ओर से पट्टे पर जमीन मिली थी। शिकायत के मुताबिक़ 24 अगस्त को छतरपुर जिले के नौगांव थाना क्षेत्र में आरोपी दंपत्ति ने पीड़ित दलित महिला के खेत में चरने के लिए जबरन मवेशी छोड़ दिया था। 45 साल की पीड़िता ने जब इस बात का विरोध किया तो, उसे निर्वस्त्र कर पीटा गया और यूरिन (पेशाब) पिलाने की कोशिश की गई। पहले पीड़िता ने थाने जाकर मामले की शिकायत की, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की।

पीड़िता की शिकायत पर जब स्थानीय पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की, महिला ने दलित नेताओं से गुहार लगाई। दलित नेता महिला को लेकर जिला मुखालय पहुंचे। यहां ए.एस.
पी नीरज पांडे को पूरे मामले की जानकारी दी गई। एसपी ललित शाक्यवार ने तुरंत मामले की जांच के आदेश दिए। बाद में जांचकर 24 घंटे के भीतर आरोपी दंपत्ति को गिरफ्तार कर लिया गया। उधर, मामले पर देरी की वजह पर एसपी ललित शाक्यवार ने कहा कि, ये मामला गंभीर और चिंताजनक है। लेकिन पुलिस को देरी से इस मामले की सूचना मिली। केस दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
यह भी पढ़ें :-
1. मध्य प्रदेश में दलित महिला को बलात्कार के बाद जिंदा जलाया।
2. लम्बे संघर्ष के बाद मिला दलित महिला सरपंच को मिला झंडा फैराने का अधिकार
3. मध्य प्रदेश में दलित की हत्या क्योंकि उसकी बेटी ने छेड़ -छाड़ की शिकायत दर्ज़ करवाई थी
4. मुरैना में दलित लड़की के साथ सामुहिक बलात्कार
5. 3 माह के बच्चे को ढाल बना दलित महिला के साथ सामूहिक बलात्कार!

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें