रेप के आरोपी पिता-बेटे ने घर में घुसकर दलित युवती को जिंदा जलाया

कोई टिप्पणी नहीं
मेरठ के पास संभल के गुन्नौर क्षेत्र में रेप के आरोपी पिता-बेटे ने घर में अकेली खाना बना रही दलित युवती पर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा दी। उसे गंभीर हालत में अलीगढ़ रेफर किया गया है। एएसपी, सीओ ने गांव पहुंचकर युवती के परिजनों से घटना की जानकारी ली। यह घटना  की 28 तारीख  घटित हुई।

थाना क्षेत्र के गांव निवासी एक ग्रामीण की बेटी को एक साल पहले गांव के ही तीन लोग घर से उठाकर ले गए थे और जंगल में जाकर रेप किया था। परिजनों ने छह लोगों के खिलाफ अपहरण और रेप का मुकदमा दर्ज कराया था। रेप आरोपी राजेंद्र और उसका बेटा विजय जेल से छूटने के बाद युवती और परिजनों पर मामला खत्म कराने का दबाव बना रहे थे।
पुलिस को दर्ज कराए बयान में युवती ने बताया कि मंगलवार को खाना बनाते वक्त राजेंद्र और विजय दीवार फांदकर घर में घुस आए और मिट्टी का तेल ऊपर डालकर आग लगा दी। चीख पुकार सुनकर आसपास के लोगों ने उसे बचाया।

कोतवाल आरके चौहान ने बताया कि बेहोशी की हालत में पिता और भाई उसे कोतवाली लाये थे। बयान दर्ज करने के बाद उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया लेकिन हालत बिगड़ने पर अलीगढ़ मेडिकल रेफर कर दिया गया। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें