राष्ट्रीय स्तर पर होगा आरक्षण बचाओ आंदोलन

कोई टिप्पणी नहीं
आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के सदस्यों ने केंन्द्र और राज्य सरकार पर मिलीभगत कर दलित कर्मचारियों के शोषण का आरोप लगाया है। संघर्ष समिति के संयोजक अवधेश वर्मा ने कहा कि जानबूझकर लोकसभा में प्रमोशन में आरक्षण बिल पास नहीं किया जा रहा है। यह देश के 35 लाख कर्मचारियों के लिए करो या मरो का सवाल है। इसको लेकर उप्र से अलावा बाकी राज्यों के दलित कर्मचारी संगठनों से बात की जा रही है।

जल्द ही दलित कर्मचारी राष्ट्रीय स्तर पर आंदोलन करेंगे। संघर्ष समिति के सदस्यों ने गुरुवार को बैठक की और 21 अगस्त को आंदोलन की घोषणा की। समिति के नेताओं का कहना है कि सपा सरकार लोकसभा में बिल पास न होने का सहारा लेकर हाई कोर्ट से डिमोशन पर लगी रोक हटवाती है, वहीं, दूसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में दलित कार्मिकों का पक्ष सही से नहीं रखा जा रहा है।

बैठक में केबी राम, डॉ. राम शब्द जैसवारा, आर.पी. केन, अनिल कुमार, श्याम लाल, अंजनी कुमार, लेखराम समेत कई लोग शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें