मध्य प्रदेश में दलित की हत्या क्योंकि उसकी बेटी ने छेड़ -छाड़ की शिकायत दर्ज़ करवाई थी

कोई टिप्पणी नहीं
मध्य प्रदेश के रायसेन जिले के बाग पिपरिया गांव में एक 38 वर्षीय दलित व्यक्ति कुछ दबंगो ने पीट-पीट के हत्या करदी। 

पप्पू सिंह चौहान और गुड्डू चौहान जो अब फरार हैं ने मुन्ना रजक नाम के एक दलित व्यक्ति की लाठी-डंडो से इतना पीटा की उस की मौत हो गयी। उन्होंने रजक की पत्नी सुशीला (30) को भी बुरी तरह पीटा जो की बीच-बचाव करने कोसिस कर रही थी। सुशीला मौके पर बेहोश हो गई जिससे उस की जान बच पायी। 

पुलिस घटना की जानकारी मिलने के बाद गांव पहुंची और सुशीला को बरेली के एक अस्पताल में भर्ती करवाया। बाद में आगे के इलाज के लिए उसे भोपाल ले जाया गया।

स्थानीय दलितों घटना से गुस्से में हैं। इस लिए स्तिथि को काबू में रखने के लिए गांव में कई पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया हैं।

रजक की बेटी जो की अभी नाबालिग हैं ने पहले पुलिस में शिकायत दर्ज़ करवाई थी के एक ऊपरी जाति का लड़का जो की पप्पू और गुड्डू चौहान से संबंधित हैं उसे छेड़ता था।  इसी बात से दोनों आरोपी गुस्से में थे और उससे सबक सिखाना चाहते थे। 

यह भी पढ़ें :
  1. मुरैना में दलित लड़की के साथ सामुहिक बलात्कार
  2. आदिवासियों को मध्यप्रदेश में जबरदस्ती अपने घरो से बेदखल किया जा रहा हैं !
  3. दलित लड़की की छाया ऊपरी जाति के आदमी के ऊपर पड़ने से उसे बुरी तरह पीटा।
  4. Dalit families in Damoh beaten up by upper caste men in Madhya Pradesh
  5. मध्यप्रदेश में पति को घर के बाहर कर दलित महिला से दुष्‍कर्म
  6. विदिशा में दलित बच्चों को स्कूल में प्रवेश देने से हेडमास्टर का इनकार

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें