महाराष्ट्र में तीन लोगो को एक दलित महिला के साथ सामूहिक बलात्कार के लिए आजीवन कारावास की सजा !!

कोई टिप्पणी नहीं
महाराष्ट्र के सोलापुर जिले में दलित महिला से12 साल पुराने सामूहिक बलात्कार के मामले में स्थानीय अदालत ने सभी तीन लोगो को दोषी करार देते हुए तीनो लोगो को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है।

बुधवार (22/07/2015) को अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश विकास कुलकर्णी ने तीनो आरोपी, प्रकाश ऑडरे , विभु जाधव और समाधान पवार को अत्याचार अधिनियम और भारतीय दंड संहिता की अन्य धाराओं के तहत दोषी पाने के बाद आजीवन कारावास की सजा सुनाई। अदालत ने प्रत्येक युवक पर 25,000 रुपये का जुर्माना भी लगाया। दोषी ठहराए गए सभी तीन युवक अपराध करते समय 20-25 साल के बीच के थे। 

सोलापुर जिले के बरषी तालुका के करोडेगाओं  में एक 30 साल उम्र की दलित महिला के साथ 3-सितंबर 2003 की शाम 7:30 को दोषी करार युवकों द्वारा बलात्कार किया गया था।  यह अपराध शहर में भगवती नदी के पास अंजाम दिया गया था और महिला को घटना की रिपोर्ट नहीं करने के की धमकी के साथ वहां छोड़के चले गए थे।

होस में आने के बाद महिला ने आरोपियों खिलाफ विरज पुलिस स्टेशन में मामला दायर किया था जिस के बाद अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। अदालत ने अपना फैसला सुनाने से पहले मेडिकल रिपोर्ट, एक डॉक्टर की गवाही सहित 6 स्वतंत्र गवाहों की जांच की।

कोई टिप्पणी नहीं :

एक टिप्पणी भेजें